top of page

Shri Giriraj and His brother Shri Kamadgiri parvat at Chitrakut

श्री गिरिराज जी के भाई हैं कामदगिरी पर्वत।


श्री गोवर्धन गिरिराज के भाई हैं श्री कामदगिरी पर्वत, जो चित्रकूट में स्थित है।

(श्री वल्लभाचार्य ने इस बात का समर्थन भी करा है )

कामदगिरी चित्रकूट धाम का मुख्य पवित्र स्थान है।

गिरिराज जी व्रज में स्थित है।


रामायण में कामदगिरि पर्वत का विशेष महत्व है। ये वही जगह है जहाँ भगवान राम, माँ सीता और लक्ष्मण जी ने अपने वनवास के 11 साल गुज़ारे थे। ये वो जगह भी है जहाँ भरत-मिलाप हुआ था।

यहाँ भगवान राम ने तप कर रावण का वध करने के लिए विशेष शक्ति को प्राप्त किया था।

परिक्रमा के रास्ते में ही भगवान कामतानाथ का मंदिर है। माना जाता है कि कामतानाथ भगवान राम का ही एक रूप थे।


जय श्री गोवर्धन गिरिराज

जय श्री कमदगिरी पर्वत

जय श्रीनाथजी 🙏

जय श्री सीता राम भगवान🙏



2 views0 comments

Recent Posts

See All
bottom of page